स्टार्ट-अप इन्वेस्टमेन्ट केपिटल के रूप में उभर रहा है सूरत
सूरत में आयोजित समिट में 300 से ज्यादा निवेशकों ने लिया हिस्सा


सूरत। इन्वेस्टमेंट क्लास के रूप में स्टार्ट अप्स के प्रति निवेशकों की दिलचस्पी लगातार बढ़ती जा रही है, ऐसे में गुजरात राज्य में सूरत तेजी से स्टार्टअप इन्वेस्टमेन्ट केपिटल के रूप में अपनी उपस्थिति को लगातार मजबूत कर रहा है।
स्टार्ट-अप इन्वेस्टमेंट समिट – सूरत 2022 को हाल ही में देश के तेजी से बढ़ते स्टार्ट-अप इकोसिस्टम को मजबूत करने और निवेश के माध्यम से उभरते उद्यमियों को प्रोत्साहित करने और आर्थिक विकास में उनके योगदान को स्वीकार करने के उद्देश्य से यूनिसिंक एंजेल्स द्वारा सफलतापूर्वक आयोजित किया गया था। एंजेल इन्वेस्टिंग सिंपलिफ़ाइड थीम्ड समिट में 300 से अधिक एंजेल इन्वेस्टर्स, इंडस्ट्री लीडर्स और इकोसिस्टम पार्टनर्स ने भाग लिया।
इस कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए आविष्कार समूह के संस्थापक और अध्यक्ष विनीत राय ने पिछले 20 वर्षों में स्टार्ट-अप में निवेश करने के अपने अनुभवों का वर्णन किया। आविष्कार 1 अरब युएस डॉलर से अधिक की एसेट का प्रबंधन करता है और निवेश पर सकारात्मक प्रभाव डालने पर केंद्रित है।
इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए यूनिसिंक एंजेल्स के सह-संस्थापक, कश्यप पंड्या ने कहा कि स्टार्ट-अप में निवेश का उद्देश्य न केवल धन सृजन करना है, बल्कि नवीन व्यावसायिक विचारों का समर्थन करना भी है जो समग्र रूप से समाज पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं।
यूनिसिंक एंजेल्स के सह-संस्थापक सीए मयंक देसाई ने रियल एस्टेट से लेकर नए जमाने के एसेट क्लास जैसे पारंपरिक परिसंपत्ति वर्गों के निवेशकों के बदलते रवैये पर अपने विचार साझा किए और सर्वोत्तम निवेश विकल्पों और पारिस्थितिकी तंत्र को आकार देने में स्टार्ट-अप की भूमिका का वर्णन किया।
यूनिसिंक एंजल्स 25 से अधिक सीए और सलाहकारों के साथ एक वैश्विक एंजेल निवेश मंच है, जो विकास के लिए आवश्यक पूंजी और कनेक्टिविटी के साथ स्टार्ट-अप भी प्रदान करेगा। यूनिसिन्क एन्जल्स देश भर के लगभग 40 जितने टियर 2 और 3 शहरों में स्टार्टअप इकोसिस्टम बनाएगी और यूनिसिन्क एन्जल्स की भविष्य में 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है।

अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट पर क्लिक करे: https://unisyncangels.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *