Home खेल एक बार फिर गूंजा ‘सचिन-सचिन’ का शोर, ऐतिहासिक ‘डेजर्ट स्टॉर्म’ पारी के...

एक बार फिर गूंजा ‘सचिन-सचिन’ का शोर, ऐतिहासिक ‘डेजर्ट स्टॉर्म’ पारी के हुए 24 साल

113
0



क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का नाम दुनिया के महानतम क्रिकेटर्स में लिया जाता है। 24 साल पहले 22 अप्रैल 1998 को शारजाह में सचिन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धमाकेदार शतक लगाया था। क्रिकेट इतिहास में उनकी यह पारी ‘डेजर्ट स्टॉर्म’ के नाम से मशहूर है। इस मुकाबले में पारी का आगाज करने उतरे सचिन ने कंगारू गेंदबाजों की जमकर धुलाई की थी। उन्होंने आतिशी बल्लेबाजी करते हुए शानदार 143 रन बनाए थे। ठीक 2 दिन बाद 131 गेंदों में 134 रन बनाकर ऑस्ट्रेलियाई टीम को सचिन ने फिर से पछाड़ दिया। इन दो पारियों ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ को वह मशहूर शब्द कहने पर मजबूर कर दिया कि ‘हम सचिन से हार गए’।

ऑस्ट्रेलिया की पारी जब खत्म हुई, तो ब्रेक के दौरान तूफान आया था। कुछ देर बाद तूफान तो चल गया, लेकिन बाद में सचिन ने जो तूफानी पारी खेली, वह आज भी क्रिकेटप्रेमियों के ज़हन में है। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 9 चौके और 5 छक्के लगाए। उनके आगे डेमियन फ्लेमिंग, माइकल कास्प्रोविच और शेन वॉर्न जैसे गेंदबाज बौने नजर आए। इसी पारी को डेजर्ट स्टॉर्म कहा गया।

क्रिकेट के भगवान की पारी ‘डेजर्ट स्टॉर्म’ को आज 24 साल पूरे चुके हैं, जिसका जश्न जोरों-शोरों से स्वदेशी सोशल मीडिया मंच, कू ऐप पर मनाया जा रहा है। यहाँ कुछ ऐसा माहौल बना हुआ है, जैसे यह पारी सचिन ने आज ही जीती है। अन्य क्रिकेटर्स हों या फैंस, कू ऐप पर सचिन को दी जा रहीं शुभकामनाओं का ताँता लगा हुआ है, जिसने हमें 24 साल पीछे की दुनिया की सैर करा दी है।

क्रिकेट कॉमेंटेटर सरदिन्दु मुखर्जी कू पोस्ट करते हुए कहते हैं:

प्रतिष्ठित नारा ‘सचिन..सचिन’ 1997/98 में शारजाह स्टेडियम में गूंज उठा जब सभी समय के महानतम बल्लेबाजों में से एक सबसे महानतम बल्लेबाजों में से एक के पास नाश्ते, दोपहर के भोजन और रात के खाने के लिए 130 गेंदों में 143 रनों के साथ पहुंचने के लिए कंगारू थे। कोका कोला फाइनल। ठीक 2 दिन बाद 131 गेंदों में 134 रन बनाकर ऑस्ट्रेलियाई टीम को फिर से पछाड़ दिया। इन दो पारियों ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ को प्रसिद्ध शब्द कहने पर मजबूर कर दिया कि ‘हम सचिन से हार गए’।
#SachinSachin
#SachinStorm

https://www.kooapp.com/koo/Commentator_BappaSaradindu/e85be888-4a75-4ea2-b3ed-2a8c7c84166e

अन्य क्रिकेटर अविनाश कू करते हुए कहते हैं:

1998 में, दुनिया ने सचिन तेंदुलकर के बेहतरीन शतकों में से एक देखा, जब उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अविश्वसनीय 143 रन बनाए। एक ऐसा दिन जिसे कोई क्रिकेट फैन कभी नहीं भूल पाएगा। वे दो दिनों में 49 साल के हो रहे हैं.. क्रिकेट के भगवान एक कारण के लिए

📹🌪️ शारजाह में रेगिस्तानी तूफान
#sachinstorm #SachinSachin

https://www.kooapp.com/koo/Im.avinash/797fe3fe-68d0-4ed6-878b-2f5f4a621cf6

सचिन के सबसे बड़े फैंस में से एक नितिन सचिनिस्ट ने सचिन का बहुत ही खूबसूरत स्केच बनाया है, जिसे पोस्ट करते हुए वे कहते हैं:

शारजाह में सचिन की क्लासिक ‘डेजर्ट स्ट्रॉम’ पारी की 24वीं वर्षगांठ पर, विशेष अवसर #SachinStrom #SachinSachin के लिए यह मेरा विशेष स्कैच है।

https://www.kooapp.com/koo/sachinsuperfan/f65c66ee-3608-4d13-bf4d-a3cc3466da31

एथलीट दानिश मंज़ूर कू करते हुए कहते हैं:

शारजाह में सचिन की क्लासिक ‘डेजर्ट स्ट्रोम’ पारी की 24वीं वर्षगांठ

#SachinStorm #SachinSachin

https://www.kooapp.com/koo/danishtkd_/cc9c9982-8694-4913-9563-90ff8631c3b7

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के प्रोफेशनल क्रिकेटर एलेक्जेंडर कहते हैं:

हमारे अपने सचिन पाजी ने 1998 में #ThisDay पर शारजाह में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने करियर की सबसे यादगार पारियों में से एक खेली। रेगिस्तानी स्ट्रोम। पूरे पार्क में, शक्तिशाली ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की धुनाई !! और वह दो दिनों में अपना 49वां जन्मदिन मनाएंगे।
#SachinStorm #SachinSachin #CRICKETONKOO

https://www.kooapp.com/koo/alexandar5/eb7ca4fc-c4e4-4ff7-af10-86c1b2d9ca07

पूर्व क्रिकेटर, कॉमेंटेटर भारत चिपली कू करते हुए कहते हैं:

मेरी पसंदीदा क्रिकेट यादों में शारजाह मैच शामिल है। पसंदीदा!

मुझे यकीन नहीं है कि मैं उस समय कैसा महसूस कर रहा था, यह कैसे व्यक्त किया जाए। वो सचिन सचिन मंत्रोच्चार करते हैं..
#SachinSachin #SachinStorm #CrcketOnkoo

https://www.kooapp.com/koo/bharathchipli/a9f516f2-1262-461e-b88e-f00080721509

Previous articleग्रीनमैन विरल देसाई ने टेड टॉक्स में वक्तव्य दिया
Next article24-04-2022 Suratbhumi E-paper

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here