Home गुजरात मुख्यमंत्री ने आणंद ज़िले में भारी वर्षा से उत्पन्न स्थिति का सम्पूर्ण...

मुख्यमंत्री ने आणंद ज़िले में भारी वर्षा से उत्पन्न स्थिति का सम्पूर्ण विवरण प्राप्त किया

144
0

अहमदाबाद | मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने मध्य गुजरात में आणंद ज़िले की बोरसद तहसील में पिछले 24 घण्टों में हुई लगभग 12 इंच भारी वर्षा से उत्पन्न स्थिति को लेकर आणंद ज़िला कलेक्टर एम. वाय. दक्षिणी के साथ शनिवार सुबह टेलीफोनिक बातचतीत की और स्थिति का सम्पूर्ण विवरण प्राप्त किया। पटेल ने आणंद ज़िला प्रशासन द्वारा विशेष रूप से अति भारी वर्षा प्रभावित सिसवा गाँव की स्थिति, निचले क्षेत्रों के ग्रामीणजनों का सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरण, उनके जान-माल और पशुओं की सुरक्षा के बारे में भी विवरण प्राप्त किया। आणंद ज़िला कलेक्टर दक्षिणी ने मुख्यमंत्री को बताया कि बोरसद में मूसलाधार वर्षा के बाद जिन गाँवों में विद्युत आपूर्ति प्रभावित हुई है, वहाँ विद्युत आपूर्ति पुन: बहाल करने तथा सड़कों-मार्गों पर गिरे पेड़ों को हटाने की कार्यवाही की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर से यह जानकारी भी हासिल की कि आणंद ज़िले में बोरसद तथा आसपास के गाँवों में वर्षा के कारण जल भराव की स्थिति में घरों में फँसे लोगों की सहायता के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल (NDRF) की क टुकड़ी वडोदरा से आई है और राहत-बचाव कार्यों में जुटी है। उन्होंने भारी वर्षा से बोरसद तहसील में 1 मानव मृत्यु तथा 90 पशु मृत्यु की जानकारी कलेक्टर से प्राप्त की और इस संदर्भ में प्रभावितों को नियमानुसार मृत्यु सहायता का त्वरित भुगतान करने का उन्हें निर्देश भी दिया। उन्होंने बरसाती जल निकासी की व्यवस्थाओं के साथ-साथ बीमारियाँ फैलने से रोकने के लिए स्वास्थ्य प्रशासन को भी दवाई छिड़काव सहित स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधी कार्य करने हेतु तैनात रहने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने कच्चे-पक्के झोंपड़ों, मकानों को हानि तथा अधिक हानि के मामलों में प्राथमिक सर्वेक्षण तत्काल शुरू करने और कैशडोल्स भुगतान आदि के लिए भी आवश्यक मार्गदर्शन दिया। उन्होंने ज़िला कलेक्टर को यह भी सुझाव दिया कि जो ग्रामीणजन अपने घर का सामान अन्य सुरक्षित स्थान पर ले जाना चाहते हैं, उनके लिए ज़िला प्रशासन की ओर से श्रमिकों तथा वाहनों आदि का प्रबंध किया जाए। उन्होंने सुरक्षित स्थानों पर भेजे गए विस्थापितों के लिए की गई भोजन आदि की व्यवस्था का भी जायज़ा प्राप्त किया। मुख्यमंत्री ने ज़िले में आवश्यकता पड़े, तो राज्य सरकार के स्टेट इमर्जेंसी ऑपरेशन सेंटर द्वारा और NDRF-STRF टीमें भेजने सहित सभी प्रकार की सहायता के लिए भी ज़िला कलेक्टर से परामर्श किया। मौसम विभाग ने आगामी दिवसों में और अधिक भारी वर्षा होने की चेतावनी दी है। मुख्यमंत्री ने टेलीफोनिक बातचीत में इस चेतावनी के संदर्भ में भी ज़िला प्रशासन को और अधिक सतर्क एवं सज्ज रहने का निर्देश दिया|

Previous articleउर्फी जावेद ने दिखाया अपना अब तक का सबसे बोल्ड अवतार
Next article03-07-2022 Suratbhumi E-paper

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here