Home दिल्ली सोनिया राहुल पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

सोनिया राहुल पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

91
0

नई दिल्ली । ईडी ने आज शाम हेराल्ड हाउस के यंग इंडिया मुख्यालय के कार्यालय को सील कर दिया है। ईडी की इस कार्यवाही के बाद तनाव बढ़ने की आशंका बढ़ गई है। 5 अगस्त को महंगाई और बेरोजगारी के विरुद्ध राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली के कांग्रेस मुख्यालय पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। अकबर रोड स्थित कांग्रेश मुख्यालय में भारी पुलिस बल की तैनाती ने राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है।कांग्रेसी नेताओं को आशंका है कि जिस तरह की कार्रवाई ईडी कर रही है। उससे स्पष्ट है की सरकार सोनिया गांधी और राहुल गांधी की गिरफ्तारी भी कर सकती है। गिरफ्तारी के बाद भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन की आशंका को देखते हुए पुलिस ने कांग्रेश मुख्यालय सहित प्रमुख स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है।
कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे वरिष्ठ नेता
ईडी द्वारा यंग इंडिया मुख्यालय को सील किए जाने के बाद वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं का अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय में पहुंचना शुरू हो गया है। वर्तमान स्थिति से निपटने के लिए कांग्रेस नेताओं ने सरकार की राजनीतिक प्रतिशोध की कार्यवाही से निपटने के लिए मंथन शुरू कर दिया है। 5 अगस्त को महंगाई और बेरोजगारी को लेकर जो प्रदर्शन होना था। पुलिस द्वारा उसकी अनुमति नहीं दिए जाने और प्रदर्शन नहीं करने की चेतावनी के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया है। कांग्रेस जिस तरह से प्रधानमंत्री और सरकार पर महंगाई बेरोजगारी और ईडी की कार्यवाही को लेकर निशाना साध रहे हैं। ईडी के कार्यालय सील करने की कार्यवाही के बाद अब सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच आर पार की लड़ाई जैसी स्थिति बन गई है।
सोनिया- राहुल की गिरफ्तारी
कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को आशंका है, कि ईडी जिस तरह से गांधी परिवार को बदनाम कर रही है। मनी लांड्रिंग केस में खलनायक बनाकर गांधी परिवार को पेश करना चाहती है। कांग्रेस इस कार्यवाही का हर स्तर पर तीव्र विरोध करेगी। कांग्रेस नेताओं के सूत्रों के अनुसार सोनिया गांधी और राहुल गांधी की यदि ईडी द्वारा गिरफ्तारी की जाएगी, तो जमानत के आवेदन प्रस्तुत नहीं करने पर भी विचार विमर्श हुआ है,ताकि सरकार के खिलाफ इस मुद्दे पर विपक्ष को भी एकजुट किया जा सके।
ध्यान भटकाने की कोशिश
कांग्रेस के शीर्ष नेता मल्लिकार्जुन खडसे, सलमान खुर्शीद, अभिषेक मनु सिंघवी, जयराम रमेश, दिग्विजय सिंह इत्यादि नेताओं ने अपने बयान में कहा, सरकार महंगाई और बेरोजगारी से ध्यान हटाने के लिए विपक्ष पर प्रतिशोध से कार्यवाही कर रही है। सरकार भय का वातावरण बनाकर विपक्ष को दबाना चाह रही है। जो अब संभव नहीं होगा। कांग्रेस पार्टी हर स्तर पर सरकार की इस दमनकारी नीति का विरोध करने सड़कों पर उतरेगी।

Previous articleIIFD की आंतरिक एक्सीबिशन अरासा और फैशन एक्सीबिशन गाबा का शुभारम्भ हुआ
Next article04-08-2022 Suratbhumi E-paper

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here