Home गुजरात वापी, भरुच समेत तीन नगर पालिकाओं के लिए 114.68 करोड़ के आवंटन...

वापी, भरुच समेत तीन नगर पालिकाओं के लिए 114.68 करोड़ के आवंटन को दी मंजूरी

28
0

गांधीनगर | मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने राज्य के नगरों में रहने वाले नगरजनों की सुख-सुविधाओं में वृद्धि करने के दृष्टिकोण से तीन नगर पालिकाओं को नागरिक सुविधा के कुल 114.68 करोड़ रुपए के कार्य शुरू करने की सैद्धांतिक मंजूरी दी है। गुजरात शहरी विकास मिशन (जीयूडीएम) की ओर से मुख्यमंत्री के समक्ष इस संदर्भ में प्रस्तुत किए गए प्रस्तावों में वापी, भरुच और मुंद्रा-बारोई नगर पालिका के कार्यों का समावेश किया गया है। तदअनुसार, मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत वापी नगर पालिका को बरसाती पानी की अलग निकासी के लिए स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज व्यवस्था के 26.52 करोड़ रुपए के कार्यों के लिए अनुमति प्रदान की है। उल्लेखनीय है कि वापी नगर पालिका क्षेत्र में प्रति वर्ष औसतन 100 इंच बरसात होती है। इसके चलते शहर में लगभग 2 से 3 फुट तक जलभराव की स्थिति बन जाती है और पूर्वी क्षेत्र में रहने वाले लोगों के घरों में पानी भरने की समस्या हो जाती है। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के समक्ष इस समस्या के निवारण के रूप में वापी नगर पालिका के द्वारा जीयूडीएम के माध्यम से प्रस्तुत किए गए स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम के प्रस्ताव को उन्होंने मंजूरी दी है। इस प्रस्ताव के मंजूर होने से अब वापी नगर पालिका स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम के कार्य शुरू करेगी। इससे नागरिकों के घरों में पानी भर जाने की समस्या दरू होगी और जानमाल के नुकसान को रोका जा सकेगा। मुख्यमंत्री ने इसके अलावा कच्छ जिले की मुंद्रा-बारोई नगर पालिका की भूमिगत सीवरेज योजना के कार्यों के लिए 83.79 करोड़ रुपए के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी है। इन नगरों की आगामी वर्ष 2052 की आबादी के रोजाना 12.11 एमएलडी सीवेज जनरेशन की संभावना को ध्यान में रखते हुए भूमिगत सीवरेज योजना के कार्यों का आयोजन किया गया है। इस योजना के अंतर्गत 10 एमएलडी क्षमता के सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट, हाउस कनेक्शन चैम्बर, पम्पिंग मशीनरी तथा सीवर कलेक्टिंग सिस्टम का समावेश किया गया है। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने भरुच नगर पालिका के डुंगरी क्षेत्र जोन-6 और शक्ति नगर जोन-2 में जलापूर्ति योजना के कार्यों के लिए 4.37 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं। इन दोनों जोन में आगामी वर्ष 2050 की अनुमानित आबादी को ध्यान में रखकर रोजाना 16.02 एमएलडी पानी की आवश्यकता को पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री ने स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत इस जलापूर्ति योजना को मंजूर किया है। कुल मिलाकर, मुख्यमंत्री ने स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत तीन नगर पालिकाओं को 114.68 करोड़ रुपए की राशि के कार्यों के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी है।

Previous articleगुजरात में प्रथम सबमरीन केबल लेन्डिंग स्टेशन और डेटा सेंटर्स का होगा निर्माण
Next article29-10-2022 Suratbhumi E-paper

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here