Home दिल्ली विदेशों में निर्मित अच्छे टीकों के लिए भारत में ट्रायल की अनिवार्यता...

विदेशों में निर्मित अच्छे टीकों के लिए भारत में ट्रायल की अनिवार्यता खत्म

372
0

नई दिल्ली । कोरोना की दूसरी लहर के बीच देश में टीकाकरण को तेजी देने के लिए भारत सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने विदेशों में निर्मित ‘अच्छी तरह से स्थापित’ कोविड-19 रोधी टीकों के लिए भारत में ट्रायल की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है।इस कदम से विदेशी टीकों के आयात में तेजी आएगी। सरकार ने यह कदम उस समय पर उठाया है जब देश में दूसरी लहर कुछ शांत पड़ने के बावजूद प्रतिदिन करीब 2 लाख नए संक्रमित मिल रहे हैं और हजारों लोगों की मौत हो रही है।
सरकार ने कहा है कि जल्दी से जल्दी टीकों के आयात के लिए फाइजर से बातचीत चल रही है। इसके अलावा जॉनसन एंड जॉनसन और मोडर्ना के साथ भी चर्चा हुई है। पिछले महीने भारत सरकार ने विदेशी टीकों को फास्ट-ट्रैक मंजूरी देने का वादा किया था, लेकिन स्थानीय ट्रायल पर जोर देने की वजह से फाइजर से बातचीत अटकी हुई थी। सरकार ने कहा, ”दूसरे देशों में उत्पादित अच्छे टीकों के लिए स्थानीय ट्रायल की अनिवार्यता में छूट के लिए प्रावधानों को बदला गया है।”
सरकार ने कहा है कि किसी वैक्सीन निर्माता कंपनी ने अभी भारत के दवा नियामक के पास मंजूरी के लिए आवेदन नहीं दिया है। बयान में कहा गया है, ”हम अंतरराष्ट्रीय वैक्सीन निर्माताओं से अपील को दोहराते हैं कि आएं और भारत में निर्माण करें, भारत के लिए और दुनिया के लिए।” देश में 20 करोड़ से अधिक डोज लगाए जा चुके हैं, लेकिन महज 3 फीसदी आबादी को दोनों डोज लगे हैं।

Previous article27-05-2021 Suratbhumi Epaper
Next articleजून के दूसरे सप्ताह से उपलब्ध हो जाएगा स्पूतनिक वी टीका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here