Home गुजरात हिन्दुस्तान जिंक द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा के लिये की गयी पहल...

हिन्दुस्तान जिंक द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा के लिये की गयी पहल अनुकरणीय- जिला शिक्षा अधिकारी, विरेन्द्र सिंह यादव

357
0

हिन्दुस्तान जिंक द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में की जा रही पहल अनुकरणीय है एवं विशेष रूप से जावर माइंस में 50 वर्ष पुराने स्वामीविवेकानंद राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के जीर्णोद्धार एवं नवीनीकरण का कार्य सराहनीय है। यह बात जिला शिक्षा अधिकारी विरेन्द्र सिंह यादव ने विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि विद्यालय भवन पुराना होने से कई स्थान पर जीर्ण शीर्ण अवस्था में था जिसे हिन्दुस्तान जिं़क द्वारा जिर्णोद्धार कर राजस्थान में शीर्ष स्कूलों के मानकों के अनुरूप कर दिया गया है, जो कि बड़ी उपलब्धि है।
शिक्षा प्रत्यके समाल के विकास हेतु प्राथमिक आवश्यकता है और हिन्दुस्तान जिं़क अपने आस पास के क्षेत्रों में शिक्षा के लिये बुनियादी सुविधा प्रदान करने हेतु प्रतिबद्ध है। कंपनी द्वारा अपने मूल सिद्धांत के अनुरूप , किसी भी प्रकार की सुविधा के अभाव में प्रतिभाएं शिक्षा से वंचित ना रह जाएं इस हेतु समुदाय की आवश्यकताअनुसार कार्य एवं परियोजानाएं संचालित कर रहा है। स्वामी विवेकानंद राउमावि जावर में आयोजित कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी विरेन्द्र सिंह यादव सहित मजदूर संघ के महासचिव लालू राम मीणा हिन्दुस्तान जिं़क की हेड सीएसआर अनुपम निधि, जावर माइंस के एसबीयू डायरेक्टर किशोर एस, विद्यालय के प्राचार्य ब्रहम प्रकाश शर्मा ने पट्टिका अनवारण एवं फिता काट कर विधिवत पूजन द्वारा किया।


इस अवसर पर मजदूर संघ के महासचिव लालू राम मीणा ने कहा कि यह विद्यालय उदयपुर में अपनी तरह का अनूठा है जो कि विरासत के साथ साथ शिक्षा के लिये विद्यार्थियों एवं स्टाफ हेतु सभी प्रकार की सुविधाएं रखता है। उन्होंने उल्लेख किया कि नवीनीकरण कार्य छात्रों को प्रोत्साहित करेगा एवं विद्यालय में उपलब्ध प्रयोगशालाओं की भी सराहना की जो पूरे जिले में अनुकरणीय हैं।
नेवातलाई के सरंपच किशनलाल मीणा जो कि इस विद्यालय के पूर्व छात्र भी है, ने हिन्दुस्तान जिं़क की टीम को धन्यवाद देते हुए इस प्रयास की प्रशंसा की।
हेड सीएसआर अनुपम निधि ने कहा कि इस विद्यालय में किये गये कार्य के बाद अब कोविड महामारी के समाप्त होने और विद्यालय में छात्र छात्राओं के आने का इंतजार है। उन्होंने शिक्षा के लिये किये गये इस पुनित कार्य में सहयोग के बाद विद्यार्थियों को उनकी सफलता हेतु शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अधिक से अधिक छात्र छात्राएं यहां प्रवेश ले कर अपने भविष्य को संवारें। उन्होंने विद्यालय की प्रबंध समिति से छात्रों के सर्वागीण विकास का आग्रह किया।

Previous article17-07-2021 Suratbhumi Epaper
Next article18-07-2021 Suratbhumi Epaper

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here