Headlines

केजरीवाल सरकार पूर्वी दिल्ली के पटपड़गंज में करा रही है पालतू पशुओं के लिए पशु चिकित्सालय का पुनर्निर्माण

नई दिल्ली । केजरीवाल सरकार पूर्वी दिल्ली के पटपड़गंज में पालतू पशुओं के लिए पशु चिकित्सालय का पुनर्निर्माण करा रही है। पशु चिकित्सालय का यह भवन चार मंजिला होगा। इस भवन में मुहल्ला क्लिनिक, ओपीडी,लैब और सर्जिकल रुम के अलावा इस चिकित्सालय की उपरी मंजिल पर लाइब्रेरी और एक हॉल बनाया जाएगा। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को इस पशु चिकित्सालय का शिलान्यास किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस पशु चिकिसालय से पटपड़गंज विधानसभा के साथ लक्ष्मी नगर, पांडव नगर, त्रिलोकपुरी और कोंडली को लोगों को अपने पालतू पशुओं को उचित चिकित्सा दिलाने में सहायता मिलेगी। साथ ही इस भवन की उपरी मंजिल में बन रहे लाइब्रेरी से स्थानीय छात्रों को सूकून से पढने के लिए जगह भी मिलेगी।
-कैसा होगा पटपड़गंज में बन रहा पशु चिकित्सालय
यह एक चार मंजिला सेमी परमानेंट भवन होगा। जिसमें प्रथम तल पर चिकित्सक का कमरा, सर्जिकल रूम, ओपीडी एवं बड़े एवं छोटे पशुओं की चिकित्सा के लिए स्थान होगा। दूसरे तल पर भी चिकित्सक के लिए एक कमरा, लैब एवं स्टाफ के लिए कमरा होगा। तीसरे तल पर अस्पताल के स्टाफ के लिए दो फ्लैट का प्रावधान है एवं चौथे तल पर एक लाइब्रेरी एवं हॉल होगा। इस भवन के पुनर्निर्माण के बाद पटपड़गंज विधानसभा क्षेत्र एवं आसपास के क्षेत्र जैसे कि लक्ष्मी नगर, पांडव नगर, त्रिलोकपुरी, कोंडली आदि की आम जनता को अपने पालतू पशुओं को उचित चिकित्सा दिलाने में बहुत सहायता होगी। साथ ही लाइब्रेरी एवं हॉल की उपलब्धता से भी स्थान निवासियो के लाभ होगा।
-मुहल्ला क्लिनिक, लाइब्रेरी और हॉल से स्थानीय लोगों को मिलेगी मदद
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार के पास जगह की कमी है इसलिए सरकार छोटी जगहों का भी अधिकतम उपयोग करती है। चिकित्सालय के इस भवन में मुहल्ला क्लिनिक भी बनेगा। मुहल्ला क्लिनिक से आस पास के लोगों को छोटी मोटी बिमारियों के लिए अस्पताल जाने की जरुरत नहीं पड़ेगी. साथ ही 212 तरह की जांच भी मुफ्त हो सकेगी। साथ ही लाइब्रेरी के बनने से आस पास के छात्रों को एक ऐसी जगह मिल सकेगी जहां वे सुकून से बैठ कर पढ़ाई कर सकें। इस भवन के उपरी मंजिल में हॉल के बनने से आस पास के बुजुर्ग को बैठने की एक शानदार जगह मिल जाएगी जहां वे बैठकर आपस में चर्चा परिचर्चा कर पाएंगे।
-इस भवन की कुल स्वीकृत राशि रु 2 करोड़ है और यह भवन अगले सात माह में बन कर तैयार हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *